गर्भावस्था धारण करना हर महिला का सपना होता हैं ये एक बेहद सुखद एहसास होता हैं. जो हर विवाहित दम्पती का सबसे बड़ा सपना होता हैं. गर्भावस्था धारण करना यूँ तो एक अत्यंत ही आनंदमय और जीवन का सबसे सुखद लम्हा होता है, लेकिन यह आसान नहीं होता, इसमें कई तरह की परेशानोयों का सामना भी करना पड़ता हैं, कुछ महिलाओ के लिए गर्भावस्था आसान होती हैं लेकिन कुछ महिलाओ के लिए ये अत्यंत पीड़ादायक अनुभव हो जाता हैं, किसी भी प्रकार की दिक्कतों से बचने के लिए आपको सावधान रहने की आवश्यकता होती हैं.

प्रेगनेंसी में असामान्य लक्षण:

बुखार:
बुखार का सामान्य तौर पर रहना वैसे भी अच्छा नहीं माना जाता हैं लेकिन गर्भावस्था में अगर आपके शरीर का तापमान 100 डिग्री फेरन्हाइट से अधिक है और आपको सर्दी या फ्लू जैसी कोई दिक्कत नहीं तो तुरंत डॉक्टर को दिखाए.
102 डिग्री फेरन्हाइट से अधिक तापमान होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें, हो सकता हैं की यह किसी प्रकार का संक्रमण हो, इसीलिए गर्भावस्था के दौरान अपने तापमान को चेक करते रहे.

पेट के निचले हिस्से में दर्द
पेट के एक या दोनों तरफ या फिर निचले हिस्से में तेज दर्द होने पर डॉक्टर को दिखाकर सुनिश्चित कर लेना बेहतर है कि कोई गंभीर बात नहीं है लगातार पेट के निचले हिस्से में दर्द होना अच्छा संकेत नहीं माना जाता हैं, पेट के निकलर हिस्से में दर्द होने के निम्न कारण हो सकते हैं
अस्थानिक गर्भावस्था
गर्भपात
समय से पहले प्रसव
फायब्रॉइड का विखंडित होना और उसमें खून बहना.

हाथों, पैरों, चेहरे या आँखों पर सूजन का होना:
गर्भावस्था के दौरान हाथों, पैरों, चेहरे या आंखों पर सूजन बने रहन बिलकुल भी सामान्य नहीं होता हैं और अक्सर इसमें कोई चिंता की बात नहीं होती, लेकिन अगर आपको सूजन कुछ ज़्यादा ही हैं तो हो सकता हैं की आपको प्री-एक्लेमप्सिया हो जिसके लिए डॉक्टर से तुरंत परामर्श करे.

अचानक बहुत ज़्यादा प्यास का लगना:
अगर, आपको अचानक अत्याधिक प्यास लग रही है और आपका मूत्र भी गहरे पीले रंग का है, तो यह डिहाइड्रेशन की निशानी हो सकती हैं आपको प्यास ज्यादा लगे और हमेशा की तुलना में अधिक बार पेशाब जाना पड़ रहा हो, तो यह डायबिटीज का भी लक्षण हो सकता हैं, जो की गर्भावस्था में बिलकुल उचित नहीं हैं , इसके लिए तुरंत डॉक्टर्स से संपर्क करे.

screenshot_24

Advertisement
Loading...

बहुत ज़्यादा उलटी का होना:
अगर आप दिन में दो या तीन बार से अधिक उल्टी कर रही हैं, तो आपको डिहाइड्रेशन हैं जो आपके बच्चे के लिए खतरनाक हो सकता हैं जो गर्भपात का कारण हो सकता हैं , अगर पहली तिमाही में आपको अत्याधिक उल्टी दिन में तीन से चार बार आए, तो अपनी डॉक्टर से बात करें

बच्चे की हलचल कम होना:
अगर 21 सप्ताह के बाद आपको बच्चे की हलचल 24 घंटे से अधिक समय तक महसूस न हो या कम महसूस हो, तो हो सकता है शिशु किसी परेशानी में हो. अगर बच्चे की हलचल सामान्य से कम लगे, तो अपनी डॉक्टर से संपर्क करें, यह बहुत ज़रूरी हैं जब आपको एहसास हो के आपके बच्चे ने मूव करना बंद कर दिया हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे.

पेट के बल गिर गयी हो तो हो जाए सावधान:
गिरना या चोट लगना हर बार खतरनाक नहीं होता, लेकिन अगर गिरने के बाद ब्लीडिंग आ रही हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे और सारी बात बताये . हालांकि, गिरने या चोट लगने के दुर्लभ मामलों में जटिलताएं पैदा हो सकती है.

सेहत ठीक-ठाक नहीं लगना:
अगर आप किसी लक्षण के प्रति निश्चित नहीं हैं, आपको कुछ अच्छा नहीं लग रहा या कुछ बेचैनी लगे, या बहुत ज़्यादा अकेलापन महसूस हो रहा हो तो डॉक्टर से बात करे और खुश रहने की कोशिश करे अगर कोई समस्या होगी, तो आपको उसका समाधान मिल जाएगा.

 

be careful if you have these symptoms in pregnancy this not good for your baby be aware and consult to the doctor.

Web-title: these symptoms are not good for you if you are pregnant

keywords: pregnancy, bad symptoms, cure, suggestions

Advertisement
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here